Back to headlines

img

नगरोटा एनकाउंटर में मारे गए आतंकवादियों को मिली थी कमांडो ट्रेनिंग

जम्मू के नगरोटा (Nagrota) में गुरुवार को हुए एनकाउंटर (Encounter) में मारे गए जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के चारों पाकिस्तानी आतंकी के बारे में नई जानकारी हाथ लगी है. खुफिया एजेंसियों को खबर लगी है कि इस पूरी साजिश को अंजाम देने में साल 2016 में पठानकोट में हुए हवाई हमले के मुख्य आरोपी जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) के ऑपरेशनल कमांडर कासिम जान का भी हाथ था. एजेंसी के मुताबिक, दक्षिण कश्मीर में कासिम के कई लड़ाके मौजूद हैं जो उसके एक इशारे पर कोई भी वारदात को अंजाम देने के लिए तैयार रहते हैं. बता दें कि कासिम भारत में जैश आतंकवादियों के मुख्य लॉन्च कमांडरों में से एक है और उसके आतंकी मुफ्ती रऊफ असगर से सीधे संबंध हैं. हिन्दुस्तान टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को खबर लगी है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना को हटाने और तालिबान के पुनरुत्थान के बाद से जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) के आतंकी तेजी से जम्मू-कश्मीर में एक्टिव हो रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, 14 विशेष रूप से प्रशिक्षित आतंकवादियों को गुजरांवाला के रास्ते भारत में दाखिल करने की कोशिश की जा रही है.

News source ~ News18