Back to headlines

img

एलयू इन सौ सालों के साथ ही आने वाले सौ सालों के लिए काम करें योगी आदित्यनाथ

लखनऊ यूनिवर्सिटी आज अपने सौवें वर्ष में प्रवेश कर रही है, इसके इस यात्रा के लिए बधाई। एलयू की यह सौ वर्ष की जीवंत यात्रा तक अगले सौ वर्ष तक कायम रखने की जिम्मेदारी आप सभी की है। वास्तव में एलयू अपनी स्थापना 100 वर्ष होने के साथ ढेर सारी उपलब्धियां लाया है। नई शिक्षा नीति आई है। सामान्य अवसर पर सब योग्यता प्रदर्शित कर सकते हैं। चुनौतियों से तप कर ही सोना बनता है। कोविड काल में शिक्षा को आगे बढ़ाया जा रहा है। यह एलयू की उपलब्धि है। ये बातें सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लखनऊ यूनिवर्सिटी के शताब्दी वर्ष समारोह के उदघाटन अवसर पर कहीं। इस दौरान डिप्टी सीएम डॉ। दिनेश शर्मा एवं उच्च शिक्षा मंत्री नीलिमा कटियार भी मौजूद रहीं।

सीएम योगी ने कहा कि एक भारत श्रेष्ठ भारत को भी एलयू ने आगे बढ़ाया। हम गर्व से कह सकते हैं कि एलयू ने इन 100 वषरें की यात्रा में देश व समाज को राष्ट्रपति से लेकर न्यायमूर्ति दिए तो लोकतंत्र को मजबूत करने वाले नेता भी दिए। रिसर्च करने वाले वैज्ञानिक दिए तो अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने वाले उद्योगपति भी। जब हम मूल्यांकन करेंगे तब एक-एक उपलब्धियां दिखाई देंगी। हम नई शिक्षा नीति पर चलेंगे तो हमारा कोई स्टूडेंट्स डिग्री पाने के बाद असहाय नहीं होगा। यह ही राष्ट्रीय शिक्षा नीति का सार है। संस्थान का हिस्सा केवल छात्र या आचार्य ही नहीं होते हैं। अभिभावक और पूर्व छात्र बहुत महत्वपूर्ण होते हैं।

News source ~ Inext Live