Back to headlines

img

डिजिटल मीडिया में 26 प्रतिशत विदेशी निवेश की अनुमति

डिजिटल मीडिया में एफडीआई को लेकर सरकार ने जानकारी साझा की है. सरकार का मकसद आत्मनिर्भर और जवाबदेह डिजिटल न्यूज मीडिया इकोसिस्टम बनाना है. इसके साथ ही सरकार की मंशा चीनी डिजिटल मीडिया पर नकेल कसने की भी है.जानकारी के मुताबिक डिजिटल मीडिया में 26 प्रतिशत विदेशी निवेश की अनुमति दी गई है. इसके लिए सरकार की अनुमति की आवश्यकता होगी. यह वेबसाइट, ऐप या अन्य प्लेटफॉर्म पर न्यूज और करेंट अफेयर्स अपलोड या स्ट्रीम करने वालों पर लागू होगी.

यह बात डिजिटल मीडिया को समाचार देने वाली समाचार एजेंसियों पर भी लागू होगी. इसके साथ ही न्यूज एग्रीगेटर भी इसके दायरे में आएंगे.बताया जा रहा है कि सभी डिजिटल मीडिया न्यूज संस्थानों को एक वर्ष का समय दिया गया है ताकि वे शेयरहोल्डिंग की जरूरतों को पूरा कर सकें. 26 प्रतिशत एफडीआई केवल भारत में पंजीकृत या स्थित संस्थानों पर ही लागू होगा.FDI से क्या होगा फायदा?इस फैसले के बाद रेग्यूलेटरी ओवरसाइट बनाई जा सकती है. सीईओ भारतीय नागरिक होना चाहिए. विदेशियों के लिए सुरक्षा मंजूरी जरूरी है. अभी तक ये सारे पैमाने ब्रॉडकास्ट मीडिया में थे लेकिन अब ये डिजिटल मीडिया पर भी लागू होंगे.

News source ~ AajTak