Back to headlines

img

समलैंगिक विवाह के मसले पर केंद्र को नोटिस, HC ने कहा- ये नागरिक के अधिकार का मामला

समलैंगिक विवाह को लेकर दायर की गई याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई. अदालत ने अब इस मामले में केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर दिया है. केंद्र सरकार को चार हफ्ते में अपना जवाब देना होगा. याचिकाकर्ता की ओर से मांग की गई है कि समलैंगिक विवाह को मान्यता दी जाए और इसे स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत शामिल किया जाए. अब इस मामले पर अगली सुनवाई 8 जनवरी 2021 को होगी. दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने नोटिस में कहा है कि ये कोई सामान्य याचिका नहीं है, ऐसे में केंद्र सरकार के प्रतिनिधि इसे गंभीरता से लें.

ये नागरिक के अधिकारों का सवाल है. सुनवाई के दौरान रजिस्ट्रार के वकील ने कहा कि सनातन धर्म के पांच हजार साल के इतिहास में इस प्रकार का मामला नहीं आया है. देखें: आजतक LIVE TVइस मामले में दो कपल याचिकाकर्ता हैं. एक व्यक्ति को अपनी मर्जी के शख्स से शादी करने से लिंग के आधार पर रोका गया. दूसरा कपल जिसने न्यूयॉर्क में शादी की थी, लेकिन भारतीय कॉन्सुलेट में उनकी शादी का रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका था.

News source ~ AajTak