Back to headlines

img

चीन के साथ LAC पर तनाव; अमेरिका के विदेश मंत्री बोले- भारत को सहयोगी के रूप में US की जरूरत

अमेरिका ने चीन के बढ़ते कदमों के प्रति चेताया (फाइल फोटो)(India China Standoff) को लेकर अमेरिका ने चीन के रूख के प्रति चेताते हुए भारत के साथ संबंध मजबूत करने पर जोर दिया है. अमेरिका के विदेश मंत्री(Mike Pompeo) ने शुक्रवार को चीन के बढ़ते कदमों के प्रति चेतावनी देते हुए भारत के साथ घनिष्ठ संबंधों का आग्रह किया है. इसे दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच चल रही कूटनीतिक सुगबुगाहट का हिस्सा माना जा रहा है.पोम्पिओ ने भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्रियों के साथ इस सप्ताह की शुरुआत में टोक्यो में हुई चार-स्तरीय बैठकों के बारे में कहा, "इस लड़ाई में उन्हें संयुक्त राज्य अमेरिका को अपना सहयोगी और भागीदार बनाने की आवश्यकता है." पोम्पिओ ने रेडियो होस्ट लैरी ओ कॉनर से कहा, "चीन ने अब उत्तर में भारत के खिलाफ बड़ी ताकतों को एकजुट करना शुरू कर दिया है."अमेरिका के विदेश मंत्री पोम्पिओ ने कहा, "दुनिया सजग हो

गई है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिका ने अब एक मजबूत गठजोड़ तैयार किया है, जो इस खतरे का जवाब देगा."टोक्यो में हुई बैठक के बाद, पोम्पिओ जल्द ही रक्षा मंत्री मार्क एस्पर के साथ भारत की यात्रा करेंगे और अपने भारतीय समकक्षों के साथ सालाना वार्ता करेंगे. अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने कहा कि उप विदेश मंत्री स्टीफन बेगन बैठक की तैयारी के लिए अगले हफ्ते भारत के दौरे पर जाएंगे.बता दें कि जून महीने में लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से दोनों देशों के मध्य तनाव बरकरार है. इस झड़प में भारत के 20 जवानों की जान कुर्बान हुई थी. चीन ने अपने सैनिकों के हताहत होने की बात स्वीकार की है, लेकिन सैनिकों की संख्या के बारे में नहीं बताया है.भारत मेंमहामारी के फैलाव पर नज़र रखें, औरपर पाएं दुनियाभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें.लाइव खबर देखें:फॉलो करे:

News source ~ NDTV