Back to headlines

img

फेक TRP कांड: मुंबई पुलिस ने कहा-इंडिया टुडे के खिलाफ नहीं मिले सबूत

मुंबई पुलिस ने कहा है कि टीआरपी से हेराफेरी के जिस रैकेट का गुरुवार को पर्दाफाश हुआ है उसमें उसे इंडिया टुडे के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं मिला है. मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर ​मिलिंद भरांबे ने कहा है कि एफआईआर में इंडिया टुडे का नाम था, लेकिन न ही आरोपी ने और न ही गवाह ने इस दावे की पुष्टि की. मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर का बयान इस प्रकार है— एफआईआर में इंडिया टुडे के नाम का उल्लेख किया गया था, लेकिन किसी भी आरोपी या गवाह ने इसकी पुष्टि नहीं की. इसके विपरीत आरोपियों और गवाहों ने खासतौर से रिपब्लिक टीवी, फक्त मराठी और बॉक्स सिनेमा का नाम लिया. इस बारे में गहन जांच चल रही है.

 रिपब्लिक टीवी के अर्नब गोस्वामी ने टीआरपी घोटाले में अपने खिलाफ जांच करने के लिए मुंबई पुलिस पर पलटवार किया है. अर्नब गोस्वामी ने इस लड़ाई में इंडिया टुडे का नाम घसीटते हुए कहा कि हंसा रिसर्च द्वारा दायर एफआईआर में इंडिया टुडे टीवी का नाम है. सच तो यह है कि एफआईआर में इंडिया टुडे टीवी का उल्लेख था, लेकिन इसकी आरोपियों या गवाहों से पुष्टि नहीं हो पाई, जिन्होंने खासतौर से तीन चैनलों में रिपब्लिक टीवी का नाम लिया जिसे देखने के लिए उन्हें पैसे दिये गये.

News source ~ AajTak